ग्रेटर नोएडा में 6 मंजिला इमारत गिरने से 3 लोगों की मौत, मलबे में और लोगों के दबे होने की आशंका- नरेंद्र त्रिपाठी दिल्ली।

देश

ग्रेटर नोएडा- 18 जुलाई, ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी गांव में मंगलवार की रात तकरीबन 10 बजे दो 6 मंजिला इमारतें ताश के पत्तों की तरह ढह गईं। मलबे में 30 से ज्यादा लोगों के दबे होने की आशंका है। देर रात तक तीन शव निकाले जा चुके थे। गिरी हुई इमारत में से एक निर्माणाधीन थी, जबकि दूसरी इमारत में कुछ परिवार रह रहे थे। निर्माणाधीन इमारत में भी कुछ मजदूर अपने परिवार के साथ रह रहे थे। चश्मदीदों की माने तो, निर्माणाधीन बिल्डिंग अचानक सम्हालने से पहले गिर गई। इसके मलबे की चपेट में आने से दूसरी बिल्डिंग भी गिर गई।

एनडीआरएफ, आईटीबीपी और जिला प्रशासन की टीम राहत-बचाव में जुटी हुई हैं। दबे लोगों को खोजने के लिए डॉग स्क्वॉड की भी मदद ली जा रही है। दिक्कत इस बात की है कि इस इलाके में संकरी गलियां हैं जिससे जेसीबी और दूसरे भारी मशीनों को लेजाने में परेशकनी हो रही है। यही वजह है कि बचाव में भी परेशानी हो रही हक़ी। एनडीआरएफ के 90 कर्मचारी और स्थानीय लाेग हाथों से मलबा हटाकर नीचे दबे लोगों को खोजते नज़र आए।

इसे दुर्भाग्य कहेंगे कि एक परिवार 12 घंटे पहले ही बगल की बिल्डिंग में शिफ्ट हुआ था, और उस परिवार में 4-5 लोग थे। फ्लैट में शिफ्ट होने के 12 घंटे के भीतर ही सभी लोग मलबे में दब गए। पंकज ने बताया कि जैसे ही दोनों बिल्डिंग गिरीं, तो उसके बाद ही आसपास के लोग पहुंचे, लेकिन किसी को बचाने के लिए मौका नहीं मिला। डीएम बीएन सिंह ने कहा कि मलबे में फंसे लोगों को निकालने में 6 से 12 घंटे का वक़्त लग सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *