निर्वाचन आयोग के निर्देश को सेक्टर अधिकारी लगा रहे पलीता – सुरेन्द्र त्रिपाठी

राज्य
सेक्टर अधिकारी लगा रहे निर्वाचन आयोग के निर्देश को पलीता
उमरिया 15 अप्रैल – एक ओर जिले के जिला निर्वाचन अधिकारी कोई मतदाता छूट न जाए के उद्देश्य से पसीना बहा रहे है, खुद भी क्षेत्रों में दौरा कर मतदाताओं को ई व्ही एम और व्ही व्ही पैड के बारे में समझा रहे हैं, लोगों को मतदान के प्रति जागरूक करने में लगे हैं,  वहीं कुछ सेक्टर अधिकारी आयोग के निर्देशों और जिला निर्वाचन अधिकारी की मेहनत पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं ऐसा ही एक मामला ग्राम चंगेरा( नौरोजाबाद ) का सामने आया है सूत्र बताते हैं वहां मौजूद अधिकारी ने अपने मजाकिया और खड़ी बोली के अंदाज में मतदाताओं का अपमान किया,  इतना ही नहीं मतदाताओं द्वारा ईवीएम के बारे में जानकारी मांगने पर उन्हें यह तक कहा”  तुम का करवे छोड़ा तुम पंचन के बस की बात ना होय ”  इस पूरे मामले में कितनी सच्चाई है यह हम नहीं कह सकते क्योंकि यह पूरा मामला सुत्रों के अनुसार सामने आया है मगर ऐसी कोई भी बात अगर सामने आती है तो मतदाता जागरूकता अभियान ऐसे अधिकारियों के लिए मात्र फोटो शेषन और टाइम पास के साथ एक सुंदर सा पिकनिक बनकर ही रह गया है, इस मामले में एक तस्वीर भी सामने आई हैं जो जनसंपर्क विभाग ने ही भेजी है, जिसमे साफ नजर आ रहा है कि मतदाता जागरूकता और ई व्ही एम के साथ कैसा मजाक हो रहा है, जबकि व्ही व्ही पैड कहीं नजर ही नही आ रहा है। अब सवाल यह है कि तस्वीर में मतदाता को कुछ समझ में आया हो या ना आया हो लेकिन मौजूद अधिकारी ने फोटो खिंचवा कर अपना काम जरूर पूरा कर लिया तस्वीर पर सवाल यह खड़ा होता हैं कि ना मतदाता को व्हीव्हीपेट की जानकारी दी जा रही ना इव्हीएम में  किस तरह बटन दबाने से क्या होता है यह कुछ नही बताया जा रहा है बल्कि भोले भाले आदिवासी ग्रामीणों का मजाक उड़ाया जा रहा है, और सेक्टर अधिकारी महोदय, जिला निर्वाचन अधिकारी से अंक लेने के लिए फोटो खिंचवा कर जन सम्पर्क कार्यालय तक जरूर पंहुचा दिए कि कल के अखबारों में उनकी अच्छी फोटो छप जाएगी और कर्मठ अधिकारी का दर्जा प्राप्त हो जाएगा। गौरतलब है कि ऐसे अधिकारी के खिलाफ कार्यवाई अवश्य होना चाहिए जो निर्वाचन जैसे पुनीत कार्य मे भी लापरवाही बरतने और आम मतदाता को अंधेरे में रख कर औपचारिकता निभाने में कसर नही छोड़ रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *