बच्चा चोर समझकर कांग्रेसी नेता को गांव वालों ने बेरहमी से पीटा

राज्य

इन दिनों बच्चों के चोरी होने की खबरे इतनी तेजी से फैल रही है जिससे लोग इतने परेशान हो चुके है कि समान्य लोगो को भी वह बच्चा चोर समझकर उस पर हमला बोल जाते है ऐसा ही एक हादसा बैतूल के केसिया गांव में देखने को मिला। जहां पर देर रात एक समारोह में शामिल होकर अपनी कार से वापस लौट रहे दो कांग्रेसी नेता और एक सामाजिक कार्यकर्ता को बच्चा चोर समझकर गावं वालो नें बेरहमी से पीट दिया।

जानकारी के मुताबिक गुरुवार रात कांग्रेस नेता केसिया गांव से अपनी कार से घर लौट रहे थे। इस दौरान ग्राम नवल सिंग ढाना रोड पर झाड़ियां पड़ी हुईं थी। बीच रास्ते पर झाड़ियां पड़ी देख ये तीनों नेता घबरा गए और अपनी कार वापस गांव की तरफ मोड़कर जाने लगे। तभी वहां आस-पास छुपे ग्रामीणों ने उन पर हमला बोल दिया। जब तक वो कुछ समझ पाते, तब तक लाठी, पत्थरों से गांववालों ने उनकी कार फोड़ डाली। गांव वालों ने इसके बाद कार में बैठे तीनों लोगों को बाहर निकाला और उनकी पिटाई शुरू कर दी।

मौके पर पहुंचीं पुलिस

जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंचीं और कांग्रेस नेताओं को वहां से सुरक्षित बाहर निकाला। जिन लोगों के साथ मारपीट हुई है, उनकी पहचान कांग्रेस जिला महामंत्री धर्मेंद्र शुक्ला, जनपद सदस्य धरमू सिंग लांजीवार और आदिवासी कोरकु समाज के तहसील अध्यक्ष ललित बारस्कर के रुप में हुई है।

गांव वालों के चंगुल से छूटकर की पुलिस से शिकायत 

कांग्रेस नेता किसी तरह गांववालों के चंगुल से छूटे और पुलिस से शिकायत की। सूचना मिलने पर थाना प्रभारी दीपक पाराशर घटनास्थल पर पहुंचे। तब तक ग्रामीण वहां से भाग चुके थे। शाहपुर पुलिस ने पीड़ित धर्मेंद्र शुक्ला की शिकायत पर सीतलझिरी ग्राम के 5 ग्रामीणों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *