जिला अस्पताल में कोरोना से हुई मौत, मृतक के पुत्र ने लगाया डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप

हेल्थ

सुरेन्द्र त्रिपाठी

उमरिया 18 सितम्बर – जिले में लगातार फूट रहा कोरोना बम, आज पॉजिटिव केसो की संख्या आई 23, जिले के खाते में 2 लोगों की मौत और जुड़ गई, जिले में नही थम रहा कोरोना का कहर अब तक मरने वालों की संख्या हुई 7 कोरोना पॉजिटिव संख्या पहुंची 340, अब तक डिस्चार्ज हुए मरीजों की संख्या 180, एक्टिव केश 153, अभी तक रिपोर्ट अप्राप्त 687, आज हुई कोरोना से हुई मौत में मृतक के बेटे शांतनु विश्वास ने अस्पताल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का गंभीर आरोप, कहा डियुटी डॉक्टर ऋचा गुप्ता की लापरवाही से आक्सीजन नही देने के कारण हुई पिता की मौत, अभी मां भी है भर्ती उनका भी कोई नही दे रहा है ध्यान।

शांतनु विश्वास

साथ ही जिला अस्पताल और सी एम एच ओ की कलई खोल कर रख दिया, बताया कि दोपहर का भोजन करने के बाद मेरे पिताजी को स्वास लेने में तकलीफ होने लगी तब वो डियुटी में मौजूद सिस्टर को बताये और सिस्टर तत्काल डियुटी डॉक्टर ऋचा गुप्ता को बताईं लेकिन वो जरा भी ध्यान नहीं दीं और उनको देखने तक नही गईं, यदि उस समय उनको ऑक्सीजन मिल जाता तो शायद आज मेरे पिताजी जिंदा होते, मैं जिले के कलेक्टर साहब और उच्च अधिकारियों से न्याय की मांग कर रहा हूँ मेरे को न्याय दिया जाय और जांच करवा कर दोषी को सजा दी जाय साथ ही मेरी मां का ध्यान रखा जाय, साथ ही लोगों से अपील किया कि जिला अस्पताल आने की जगह घर पर रह कर अपना ध्यान रखें, यहां मत आना, वहीं कौड़िया निवासी रिटायर्ड पंचायत इंस्पेक्टर सुशील त्रिपाठी की भी मौत कोरोना से ही हुई है जिसको उनके परिजनों ने छिपा कर गृह ग्राम कौड़िया में अंतिम संस्कार भी कर दिया था अब जानकारी मिलने के बाद कौड़िया में लोग दहशत में हैं। वहीं इस मामले में जब सी एम एच ओ डॉक्टर राजेश श्रीवास्तव से बात करने का प्रयास किया गया तो वो फोन ही नही उठाये, जब जिले के कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव से बात किया गया तो वो कहे कि एक मौत हो गई है, कोविड की गाइड लाइन के अनुसार अंतिम संस्कार किया जाएगा।
गौरतलब है कि जिला अस्पताल के इस रवैये से लोगों में भय का वातावरण निर्मित हो रहा है, इससे तो ऐसा लगता है कि कोविड के नाम पर मात्र मौत परोसा जा रहा है, ऐसे में आवश्यकता है कि जिला अस्पताल से बाहर की टीम बना कर इसकी निष्पक्ष जांच कर दोषी को सजा दी जाय।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *