मानपुर में अवैध शराब की धड़ल्ले से हो रही है बिक्री.

क्राइम
  • अवैध शराब पैकारी से कोरोना वायरस को मिल सकता है बढ़ावा।
  • शासन ने शाम 7 बजे से शराब की दुकानों को बन्द करने का जारी किया आदेश।
  • शाम 7 बजे के बाद महंगे दामों पर बिक रही है अवैध शराब।
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के आदेश का नहीं हो रहा पालन।

सुरेंद्र त्रिपाठी
उमरिया- मानपुर में एक अंग्रेजी एवं एक देसी शराब दुकान का ठेका हुआ है, पर मानपुर में आबकारी विभाग की सहमती से मानपुर क्षेत्र के गांवों में लगभग 40 दुकानें पैकरी के नाम से संचालित हैं जहाँ पर शराब ठेकेदार के कर्मचारियों द्वारा शराब की खेप पहुचाई जाती है और लोगो को आसानी से महंगे दामों में शराब उपलब्ध कराई जाती है। बाहर से आने वाले बड़ी संख्या में शराब खरीदने पैकारो के पास आते है, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की सरकार, कोरोना की महामारी से जनता को बचाने के लिए तरह-तरह की तरकीब सोच रही है, लेकिन जिला मुख्यालय उमरिया में और मानपुर में बैठे अधिकारी भी कोरोना काल मे मुख्यमंत्री के आदेश को ताक पर रख कर धड़ल्ले से महंगे दामों में अवैध शराब पैकरी के नाम से बेच रहे हैं। शराब के लिए लग रही लाइन से सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रही जी। और आबकारी विभाग के सामने ओवर रेट पर शराब की बिक्री की जा रही है। अब चिंता इस बात की है कि शराब पैकारो की वजह से कहीं कोरोना इलाके में काल बन कर ना टूटे। चर्चा यह भी है कि आबकारी और पुलिश प्रसासन का शाम होते ही शराब ठेकेदार के गुर्गों के साथ उठना बैठना होता है। अगर किसी ने शिकायत की तो शराब दुकान में सी.सी.टी.वी. कैमरा न होने का फायदा उठा कर बैक डेट में मुकदमा कायम कराने के साथ दुकान में लूट या मारपीट की धमकी दी जाती है। धमकी तो यहां तक फी जाती है कि “पुलिस से मुकदमा कराना हमारे बाये हाथ का खेल है”
धांधली का आलम तो यह है कि मानपुर अंग्रेजी शराब दुकान पर रेट लिस्ट तक नही लगाई गई है, शराब दुकान के काउंटर से मनमौजी रेट पर शराब बेची जाती है।
उमरिया जिला के नवागत कलेक्टर माननीय श्रीवास्तव जी से आग्रह है कि मानपुर क्षेत्र में हो रही महंगे दामों पर अवैध शराब की पैकरी की जांच उच्च अधिकारियों से करवा कर अवैध रूप से बिक रही शराब की पैकरी बन्द करवाई जाए।
इस मामले में मानपुर टी.आई. एम.एल. वर्मा अपने नए होने ला हवाला दे कर कार्रवाई का भरोसा दिलाया तो, वहीं एस.डी.ओ.पी. के.के. पाण्डेय
ने टी.आई. के पास नोट करने की बात कह कर अवैध शराब की बिक्री के खिलाफ़ जांच कर कार्रवाई कराने का भरोसा दिलाया है। जिला आबकारी अधिकारी वी.एस. चौधरी ने तो लकडाउन के चलते ठेकेदार के नुकसान का हवाला दे कर बात करने की बात की है। जो उनके रवैये को उजागर करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *