भोपाल में मनाया गया राष्ट्रीय वन शहीद दिवस, बांधवगढ़ के भी थे 2 शहीद

राज्य

सुरेन्द्र त्रिपाठी

उमरिया 11 सितम्बर – आज भोपाल में राष्ट्रीय वन शहीद दिवस के अवसर पर एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। वन मंत्री कुंवर विजय शाह कार्यक्रम में मुख्य अतिथि थे।

वन मंत्री का उद्बोधन

कार्यक्रम में विगत 1 वर्ष में शासकीय कर्तव्यों के निर्वहन के दौरान शहीद हुए वन विभाग के 6 अग्रिम पंक्ति के अधिकारियों/ कर्मचारियों/स्थाई श्रमिकों/ दैनिक श्रमिकों के परिजनों को स्मृति चिन्ह एवम् 1 लाख रु की राशि के चेक प्रदाय किए गए। इन 6 शहीदों में से 2 शहीद बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के रवि बैगा स्थाई श्रमिक एवम् श्चिंता बैगा, दैनिक श्रमिक के थे। कार्यक्रम में रवि बैगा की विधवा श्रीमती केशकली बैगा एवम् चिंता बैगा की विधवा श्रीमती सुनीता बैगा ने स्मृति चिन्ह और चेक प्राप्त किए। वन मंत्री कुंवर डॉ विजय शाह द्वारा शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित कर उनके परिवारों की हर संभव सहायता करने का आश्वासन दिया गया, साथ ही यह भी कहा कि सभी अग्रिम पंक्तियों के कर्मचारियों को सुरक्षा और आधुनिक उपकरण प्रदान किए जाएंगे और सभी वन अपराधियों से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्य मंत्री ने वन अधिकार के अमान्य दावों पर कार्यवाही 1 माह में पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं, जिसके बाद सभी अवैध अतिक्रमणों को हटाया जाएगा। उन्होंने वन्य प्राणी/सुदूर वन क्षेत्रों में कार्य कर रहे कर्मचारियों और श्रमिकों को सभी मूलभूत सुविधाएं और सुरक्षा उपकरण प्रदाय करने के लिए बड़े संस्थानों के सी एस आर फंड से राशि उपलब्ध कराने के संबंध में प्रमुख सचिव, वन को उत्तरदायित्व दिया। कार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक आलोक कुमार ने प्रारंभिक उद्बोधन दिया। प्रमुख सचिव वन अशोक वर्णवाल तथा वन बल प्रमुख राजेश श्रीवास्तव ने भी अपना उद्बोधन दिया।
बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व प्रबंधन द्वारा शहीदों के परिजनों को लाने, ले जाने की व्यवस्था की गई। कार्यक्रम में क्षेत्र संचालक विंसेंट रहीम भी उपस्थित हुए, कार्यक्रम मध्य प्रदेश टाइगर फाउंडेशन सोसायटी द्वारा प्रधान मुख्य वन संरक्षक वन्य प्राणी के मार्गदर्शन में किया गया। प्रमुख सचिव वन अशोक वर्णवाल, प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवम् वन बल प्रमुख राजेश श्रीवास्तव, मुख्य वन्य प्राणी अभिरक्षक मध्य प्रदेश आलोक कुमार तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे वहीं कार्यक्रम में कोविड 19 के सभी प्रोटोकॉल का पालन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *